AMAR UJALA

दरियाई घोड़े ने 2 साल के बच्चे को जिंदा निगला, पत्थर पड़े तो उगलकर झील में वापस भागा


कम्पाला: अफ्रीकी देश युगांडा में एक चौंकाने वाली घटना में दरियाई घोड़े (Hippopotamus) ने 2 साल के बच्चे पर हमला कर दिया. सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक युगांडा पुलिस ने एक बयान में बताया कि घटना 4 दिसंबर, दोपहर करीब 3 बजे की है. देश के दक्षिण-पश्चिम में स्थित काटवे-काबातोरो जिले में स्थित रेवेनजुबू सेल में ईगा पॉल झील के पास खेल रहा था. तभी हिप्पो ने पानी से निकलकर उस पर हमला बोल दिया और बच्चे को निगलने लगा. मौके पर मौजूद क्रिसपास बैगोन्जा नाम के शख्स ने हिप्पो को दनादन पत्थर मारना शुरू किया, तो वह डर गया और उसने बच्चे को अपने मुंह से बाहर उगल दिया.

शख्स ने ऑनलाइन मंगवाया था लैपटॉप, घर पहुंचे डिब्बे में से निकला ‘कुत्तों का खाना’!

हिप्पो पत्थर की चोट से डरकर वापस झील में चला गया. युगांडा की पुलिस के अनुसार इस तरह की यह पहली घटना है, जिसमें हिप्पो ने एक बच्चे को निगला. हालांकि, क्रिसपास बैगोन्जा के साहस के कारण बच्चे की जान बच गई. पुलिस के मुताबिक बच्चे को हिप्पो के दांत से चोटें आई थीं. उसे इलाज के लिए पास के एक क्लिनिक में ले जाया गया और बाद में पश्चिम युगांडा के बवेरा अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया. बच्चे को अब पूरी तरह से ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. ईगा पॉल को उसके माता-पिता को वापस सौंपे जाने से पहले उसे रेबीज का टीका भी लगवाया गया.

बंदूक तानकर 1 महीने का पिल्ला तक उठा ले गए चोर, आईफोन, जूते और कपड़े भी लूट लिए 

सीएनएन ने अपनी रिपोर्ट में युगांडा पुलिस के हवाले से लिखा, ‘झील के पास रहने वाले सभी निवासियों को पता होना चाहिए कि जंगली जानवर बहुत खतरनाक होते हैं. उन्हें सावधान रहने की जरूरत है. जंगली जानवर इंसानों को एक खतरे के रूप में देखते हैं. इंसानों की कोई भी हरकत उनके अजीब या आक्रामक तरीके से व्यवहार करने का कारण बन सकती है.’ नेशनल ज्योग्राफिक के अनुसार, हिप्पोपोटामस पृ​थ्वी के सबसे खतरनाक जानवरों में से एक के रूप में जाना जाता है. दरियाई घोड़े के जबड़े में इतनी ताकत होती है कि वह एक डोंगी (छोटी नाव) को मुंह में दबाकर बीच से दो हिस्सों में तोड़ सकता है.

Tags: Trending news, Trending news in hindi, Weird news


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close
Back to top button