AMAR UJALA

माता वैष्णो देवी की यात्रा के लिए श्रद्धालुओं को इन नए न‍ियमों का पालन करना होगा अन‍िवार्य


जम्‍मू. श्रीमाता वैष्‍णो देवी (Mata Vaishno Devi Yatra) के दर्शन करने जा रहे हैं तो अब श्राइन बोर्ड के न‍ियमों को अच्‍छी तरह से जान लेना चाह‍िए. कहीं आप मां के पव‍ित्र दर्शन भी नहीं हो पाएं और जुर्माना भी ना भरना पड़ जाए. दरअसल, यह सब कुछ श्राइन बोर्ड मां वैष्‍णो देवी के दर्शन करने वाले तीर्थ यात्र‍ियों की संख्‍या का पता लगाने और तादाद से ज्‍यादा भीड़ ना हो, इससे न‍िपटने के ल‍िए क‍िया जा रहा है. इस साल एक जनवरी को भगदड़ में 12 श्रद्धालुओं की जान चली गई थी. इसल‍िए श्राइन बोर्ड ने मां वैष्णो देवी की यात्रा करने के दौरान हर एक श्रद्धालु को एंट्री प्‍वाइंट पर अपना आरएफआईडी (RFID) कार्ड जमा करवाना अन‍िवार्य क‍िया है. नए न‍ियम तत्काल प्रभाव से लागू कर दिए गए हैं.

जानकारी के मुताब‍िक इस साल 1 जनवरी के हादसे के बाद श्राइन बोर्ड की ओर हर यात्री के आरएफआईडी कार्ड जारी क‍िया था. इसके जर‍िए यात्रा करने वाल यात्र‍ियों की संख्‍या का सटीक पता लगाने में मदद म‍िल सकेगी और भवन पर क्षमता से ज्‍यादा भीड़ भी एकत्र नहीं हो सकेगी.

इस बीच देखा जाए तो मां वैष्णो देवी की यात्रा पूरी करने के उपरांत हर एक श्रद्धालु को प्रवेश द्वार पर अपना आरएफडी कार्ड जमा करवाना अन‍िवार्य होगा. जो श्रद्धालु अपना आरएफडी कार्ड जमा नहीं करवा रहे हैं. ऐसे श्रद्धालुओं को श्राइन बोर्ड प्रशासन द्वारा जुर्माना भी किया जा रहा है. वहीं, दूसरी ओर श्राइन बोर्ड प्रशासन ने कहा है कि जो श्रद्धालु बिना आरएफआईडी (RFID) कार्ड के वैष्णो देवी यात्रा करता पाया गया तो उसे जुर्माना तो किया ही जाएगा.

साथ ही उसकी मां वैष्णो देवी की यात्रा भी निरस्त की जाएगी और वापस भेज दिया जाएगा. श्राइन बोर्ड प्रशासन का सख्ती करने का मुख्य मकसद मां वैष्णो देवी भवन हो या फिर कोई भी मार्ग, इन सभी जगहों पर मार्ग में कहीं पर भी भीड़ भाड़ नहीं होने देना है. वर्तमान में आरएफआईडी यात्रा कार्ड को लेकर लापरवाही बरतने वाले श्रद्धालुओं को 100 रुपए प्रति श्रद्धालु जुर्माना किया जा रहा है.

मां वैष्णो देवी की यात्रा करने के दौरान जो यात्री अपना आरएफडी यात्रा कार्ड वापस नहीं कर रहे हैं, ऐसे श्रद्धालुओं को श्राइन बोर्ड प्रशासन द्वारा जुर्माना किया जा रहा है. जिसको लेकर श्राइन बोर्ड प्रशासन द्वारा प्रवेश द्वार दर्शनी ड्योढ़ी के साथ ही नए ताराकोट मार्ग के प्रवेश द्वार, कटड़ा हेलीपैड, श्रीमाता वैष्णो देवी रेलवे स्टेशन कटड़ा आदि स्थानों पर अतिरिक्त संख्या में अपने कर्मियों की तैनाती की है और लगाए गए अत्याधुनिक अत्याधुनिक स्कैनरों से लगातार निगरानी की जा रही है.

यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि कोई भी श्रद्धालु बिना आरएफआईडी कार्ड के वैष्णो देवी यात्रा ना कर सके और वापसी पर हर हाल में अपना आरएफआईडी कार्ड जमा करवा सके. हालांकि मां वैष्णो देवी की यात्रा करने के उपरांत करीब 97% श्रद्धालु अपना आरएफआईडी यात्रा कार्ड जमा करवा रहे हैं.

सीईओ अंशुल गर्ग ने बताया कि हालांकि श्राइन बोर्ड प्रशासन द्वारा ऐसे श्रद्धालुओं से जुर्माना वसूला जा रहा है जो मां वैष्णो देवी की यात्रा पूरी करने के उपरांत अपना आरएफआईडी यात्रा कार्ड वापस नहीं कर रहे हैं. वहीं, श्राइन बोर्ड बोर्ड प्रशासन ऐसे श्रद्धालुओं को भी जुर्माना करेगा जो बिना आरएफआईडी यात्रा कार्ड के अपनी वैष्णो देवी यात्रा करेंगे. ऐसे श्रद्धालुओं को जहां एक ओर जुर्माना किया जाएगा तो दूसरे उनकी मां वैष्णो देवी यात्रा भी रद्द की जाएगी. क्योंकि बिना आरएफआईडी यात्रा कार्ड के किसी को भी मां वैष्णो देवी की यात्रा करने की अनुमति नहीं है.

Tags: Jammu News, Mata Vaishno Devi, Vaishno Devi


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close
Back to top button